हैलो दोस्तों!

मुझे उम्मीद है कि इंडिकेटर कोम्बिनेशंस की इस सिरीज़ का आप आनंद ले रहे होंगे। इस हफ्ते हम एक नई जोड़ी- अरून ऑसिलेटर और मूविंग एवरेज क्रॉस ओवर के साथ एक इंट्राडे ट्रेडिंग स्ट्रैटेजी उजागर करने जा रहे हैं।

अरून ओसिलेटर

अरून शब्द मूलत संस्कृत से लिया गया है और इसका अर्थ होता है सुबह की पहली रौशनी। इस इंडिकेटर के डेवलपर तुषार चंदे ने यह नाम चुना क्योंकि यह इंडिकेटर एक नए ट्रेंड की शुरुआत का संकेत देने के लिए बनाया गया है।

अरून एक ट्रेडर को जल्दी ट्रेंड में उतरने और उसके रुकने पर बाहर निकालने में मदद कर सकता है। इसके विपरीत, यदि आप एक रेंज में ट्रेड करना पसंद करते हैं, तो भी आप एक ठोस काउंटर-ट्रेंड ट्रेडिंग सिस्टम बनाने के लिए अरून स्ट्रैटेजी का उपयोग कर सकते हैं। इसलिए, यह डे-ट्रेडर्स के लिए लगातार लाभदायक साबित हुआ है।

मुख्य रूप से, अरून ओसिलेटर ट्रेंड की ताकत और इसकी निरंतरता की संभावना को मापता है।

अरून अप और अरून डाउन लाइंस एक समय की शुरुआत से उस समय के क्रमशः सबसे उच्च और सबसे निम्न प्राइज़ के बीच के प्रतिशत को दर्शाती हैं।

फॉर्मूला

डिफ़ॉल्ट रूप से, अरून अप और अरून डाउन की गणना क्रमशः पिछले 25-पीरियड के उच्च और निम्न अवधि के बाद की संख्या के रूप में की जाती है। मैं 25 की डिफ़ॉल्ट सेटिंग की सलाह देता हूं। हालांकि, आप अलग-अलग समय अवधि ले सकते हैं और विभिन्न सेटिंग्स आज़मा सकते हैं।

अरून अप = 100 ∗ (25 -  25 पीरियड्स के बाद की अवधि – अवधि का उच्च)/२५
अरून डाउन = 100 ∗ (25 -  25 पीरियड्स के बाद की अवधि – अवधि का निम्न)/२५

व्याख्या

ऊपर जाता हुआ अरून अप एक मजबूत अपट्रेन्द दर्शाता है जबकि, ऊपर जाता हुआ अरून डाउन  एक डाउनट्रेंड दर्शाता है।

सभी को अरून अप और अरून डाउन के क्रॉस ओवर को ध्यान में रखना चाहिए जो संभावित ट्रेंड बदलावों की ओर संकेत करता है।


मुख्य ऑब्ज़र्वेशंस

1. जब मार्केट तेजी से मंदी की ओर बढ़ता है तो अरून अप, अरून डाउन को ऊपर से पार करता है।

2. जब मार्केट मंदी से तेजी की ओर बढ़ता है तो अरून डाउन, अरून अप को ऊपर से पार करता है।

3. जब मार्केट मजबूत गति के साथ ट्रेंड करता है तो अरून अप एक अपट्रेण्ड के लिए अति रीडिंग्स दर्शाता है और अरून डाउन डाउन ट्रेंड के लिए अति रीडिंग्स दर्शाता है।

4. अंततः, जब मार्केट एक तरफा है तो अरून अप और अरून डाउन लाइंस एक दूसरे के समानान्तर होंगी।

अरून के साथ दूसरे इंडिकेटर को कम्बाइन करना

यदि आप अरून फॉर्मूला का विश्लेषण करें तो आप देखेंगे कि उसमे केवल एक पैरामीटर है, समय अवधि। प्राइज़ का कोई संदर्भ नहीं है। तो यह इंडिकेटर आपको समय के संदर्भ में ट्रेंड और मोमेंटम देता है। आदर्श रूप से आप कैंडलस्टिक पैटर्न या मूविंग एवरेज जैसे किसी प्राइज़ एक्शन विश्लेषण की सलाह देना चाहेंगे।

मूविंग एवरेज क्रॉसओवर

हम अपनी स्ट्रैटेजी में अरून को एक मूविंग एवरेज क्रॉस ओवर के साथ कम्बाइन करेंगे।

क्रॉस ओवर तब होता है  जैसा की फिगर में दिखाया गया है जब या तो एक तेज़ मूविंग एवरेज (यानी छोटी अवधि के मूविंग एवरेज) एक धीमे चलनेवाले एवरेज (यानी बड़ी अवधि के मूविंग एवरेज) को ऊपर से क्रॉस करता है जिसे एक बुलिश क्रॉस ओवर माना जाता है या नीचे से क्रॉस करता है जिसे बियरिश क्रॉस ओवर माना जाता है।

आप मूविंग एवरेजेस के बारे में विस्तार से इस पहले के आर्टिकल में पढ़ सकते हैं।


अरून और ईएमए क्रॉसओवर स्ट्रैटेजी
यह एक इंट्रा डे स्ट्रैटेजी है और हम 15 मिनट के इंट्राडे चार्ट पर इसका उपयोग करेंगे।

ट्रेड सेट अप

टाइम फ्रेम: 15 मिनट

इंडिकेटर सेटिंग्स: अरून (समय अवधि:25); ईएमए (समय अवधि:5,20)  

स्टॉप लॉस: स्टॉप लॉस को दिन के निम्न/उच्च पर सेट करें और लक्ष्य प्राप्त करने के बाद मजबूती से पीछे हो जाएँ।

टेक प्रॉफ़िट: अपने स्टॉप लॉस के 2X-3X पर प्रॉफ़िट बुक करें या लक्ष्य मिल जाने पर धीरे से पीछे हो जाएँ। रात भर की पोज़िशन्स लेने से बचें।

बाई प्रवेश नियम 1

· अरून अप, अरून डाउन को ऊपर से पार करता है।
· 5 ईएमए, 20 ईएमए से ऊंचा है

बाई  प्रवेश नियम 2

· अरून अप, अरून डाउन से ऊंचा है
· 5 ईएमए 20 ईएमए से ऊपर है।

सैल प्रवेश नियम 1

· अरुन अप,अरून डाउन के नीचे से पार होता है।
· 5 ईएमए 20 ईएमए से कम है

सैल प्रवेश नियम 2

· अरून अप, अरून डाउन से कम है।
· 5 ईएमए 20 ईएमए को नीचे से पार करता है।

यदि आप ध्यान दें, तो हमारे पास खरीदने और बेचने की कंडीशंस के 2 अलग-अलग सेट हैं। कारण - हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि जब इंडिकेटर क्रॉसओवर सिग्नल में से एक देता है, तो दूसरा  पहले ही हो चुका हो। यदि हम एक ही स्थिति में दोनों क्रॉसओवर स्थापित करते हैं, तो ऐसा एक साथ होने की संभावना बहुत कम है और हम बहुत सारे ट्रेडों को मिस कर सकते हैं।

मैंने लाभ की स्थिति को थोड़ा लचीला रखा है क्योंकि इसका उपयोग डे-ट्रेडिंग स्ट्रैटेजी में किया जाएगा और व्यापारियों को अपने लाभ की रक्षा के लिए जल्दी से कार्य करना होता है। स्टॉप लॉस स्पष्ट रूप से परिभाषित हैं।

पोज़िशन ट्रेडर्स 60 मिनट या डेली जैसी टाइम फ्रेम्स पर भी इस स्ट्रैटेजी को आज़मा सकते हैं।

निष्कर्ष
अरून एक बहुत अच्छा समय आधारित इंडिकेटर है जिसे कई अन्य इंडिकेटर्स और ब्रेक आउट्स के साथ उपयोग किया जा सकता है। उन्हें अपने चार्ट्स पर आज़माएं और खुद देखें। मिलते हैं अगले हफ्ते!